Lifestyle

अनूठे गर्भ प्रत्यारोपण से जन्मा विश्व का प्रथम बच्चा !

ब्राज़ील के सौ पाउलो (Sao Paulo ) में ३२ वर्षीया स्त्री ने एक  बच्ची को जन्म दिया , इस बच्ची का जन्म साओ पाउलो यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल (Sao Paulo University hospital)  में हुआ । लान्सेट मेडिकल जर्नल (Lancet Medical Journal) के मुताबिक इस ३२ वर्षीया  स्त्री , जो मायेर-रॉकिटांस्की -कोस्टर -हाउसर (Mayer-Rokitansky- kuster-hauser) नाम के सिंड्रोम से ग्रसित थी जो कि  हज़ारो में से किसी स्त्री को होता है , इसमें स्त्री का गर्भ पूर्णतय: विकसित नहीं हो पाते ,  का गर्भ प्रत्यारोपण एक ४० वर्षीया मृतका के गर्भ से किया गया है। गर्भ प्रत्यारोपण की प्रक्रिया करीबन १० -१२ घंटे  चली थी और प्रत्यारोपण २०१६ में किया गया था।  नयी माँ को कुछ दिन ऑब्जरवेशन में रखा गया ।

करीबन ७ माह बाद ३२ वर्षीया स्त्री आई वी एफ प्रक्रिया द्वारा गर्भवती हुई । इस बच्ची का जन्म सीज़ेरिआन (cesarean) प्रक्रिया से हुआ और नयी बच्ची का वज़न करीबन २.५ किलोग्राम है जो एक स्वस्थ नवजात शिशु का होता है । इस बच्ची का जनम ५ दिसंबर २०१७ को हुआ था परन्तु यह खबर अभी प्रकाश में आई है ।  इस प्रक्रिया के दौरान स्त्री ऑफ़ ऑब्जरवेशन में रखा जा रहा था । वैसे अब तक कई गर्भ प्रत्यारोपण हो चुके हैं लेकिन ये प्रत्यारोपण जीवित स्त्रियों के गर्भ से किया गया था।  एक मृतक स्त्री के गर्भ का प्रत्यारोपण पहली बार हुआ । इसके पहले यह कोशिश यूनाइटेड स्टेट्स (US), चेक रिपब्लिक(Czech Republic), और तुर्की (Turkey)  में भी की गयी थी परन्तु यह कोशिशे असफल रही।

Livebirth after uterus transplantation from a deceased donor in a recipient with uterine infertility

Upasana Verma 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *