POLITICS

डबल स्टैण्डर्ड : कपिल सिब्बल सटीक उदाहरण हैं !

रिलायंस कम्युनिकेशन लिमिटेड (आरकॉम) के चेयरमैन अनिल धीरूभाई अंबानी अदालत की अवमानना के एक मामले में मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए थे। शीर्ष अदालत ने एरिक्सन इंडिया की उस याचिका पर ये नोटिस जारी किए थे जिसमें अनिल अंबानी पर ५५० करोड़ रुपये की बकाया राशि का भुगतान नहीं करने का आरोप लगाया गया है।  हालांकि इस मामले की सुनवाई आज नहीं हो पाई और यह मामला बुधवार तक के लिए टाल दिया गया है।इस घटनाक्रम से जुड़ी एक अहम बात है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सुप्रीम कोर्ट के वकील कपिल सिब्बल इस मामले में अनिल अंबानी की पैरवी कर रहे हैं।

बीते लंबे समय से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेता रफाल विमान सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेर रहे हैं और इस दौरान अनिल अंबानी भी निशाने पर आते रहे हैं।खुद कपिल सिब्बल ने आज सुबह एक ट्वीट में अनिल अंबानी का नाम लेते हुए सरकार को घेरा है। इसमें उन्होंने अनिल अंबानी की 2015 में फ्रांस के रक्षा मंत्री से मुलाकात का हवाला देते हुए लिखा है, ‘ऐसा लगता है कि एयरबस, फ्रांस सरकार और अनिल अंबानी, इन सभी को पता था कि प्रधानमंत्री नौ से ११ अप्रैल के बीच अपनी फ्रांस यात्रा के दौरान एमओयू (रफाल विमान सौदे पर) पर दस्तखत करेंगे। इस सरकार के झूठ का खुलासा हो गया है। ’

It seems Airbus , French Government , Anil Ambani all knew that the PM will sign an MOU on his visit to France between 9th and 11th April , 2015 . This Government’s lies exposed.

इस खबर के चलते सोशल मीडिया पर भी कपिल सिब्बल चर्चा में हैं और उन्हें लोगों ने अपने-अपने अंदाज में ट्रोल किया है।  लिबरल्स ऑफ न्यू डेल्ही का तंजभरा ट्वीट है, ‘जब अनिल अंबानी के वकील कपिल सिब्बल ही उन पर हमला कर रहे हों तब हमें सिब्बल पर भरोसा कर लेना चाहिए।’ वहीं ईशकरण सिंह भंडारी ने लिखा है, ‘कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के लिए अनिल अंबानी से खूब पैसा लेते हैं और आलीशान जिंदगी जीते हैं. फिर सार्वजनिक जीवन में उन्हीं अंबानी पर हमला करते हैं और कांग्रेस से फायदा उठाते हैं…’

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *