BUSINESS

Natural Gas को GST में शामिल करना चाहिए: QATAR

द्रवीकृत प्राकृतिक गैस (Liquefied Natural Gas), यह भारत और क़तर के अच्छे रिश्तों का एकमात्र कारण है। भारत करीब ८.५ मिलियन टन LNG क़तर से हर साल आयात करता है। क़तर एक मात्र ऐसा देश है जो भारत को LNG बेचता है। इस वजह से भारत के लिए क़तर से संबंधों को बनाये रखना ज़रूरी है। केवल भारत ही नहीं बल्कि क़तर की ओर से भी यही कोशिश रहती है क्यूंकि भारत उनके लिए एक बहुत बड़ा बाज़ार है जहाँ क़तर अपनी LNG को अच्छे दामों पर बेचता है।

क़तर गैस के सीईओ खालिद बिन खलीफा का कहना है की क़तर के लिए भारत एक बहुत बड़ा मार्केट है। खालिद बिन खलीफा चाहते हैं की भारत सरकार LNG को GST में शामिल कर ले। इससे LNG के व्यापार में क़तर और भारत, दोनों का ही खूब फायदा होगा। भारत सरकार को देश की इंफ्रास्ट्रक्चर ठीक करके LNG जैसे ज़रूरी उत्पाद को पूरे देश में फैलाना चाहिए। खालिद बिन खलीफा का कहना है की LNG को GST की सारी सुविधाएँ मिलनी चाहिए। “हम भारत सरकार के साथ और नज़दीकियां बढाकर काम करना चाहते हैं” – खालिद बिन खलीफा।

जैसा की हमे पता है, क़तर एकमात्र वह देश है जहाँ से भारत LNG आयात करता है। क़तर चाहता है की LNG की मांग भारत के हर कोने में बढ़ने लगे, इससे क़तर को व्यापारिक लाभ पहुंचना तो तय है। इस वजह से क़तर गैस के सीईओ LNG को GST में शामिल करना चाहते हैं। कई भारतीय विशेषज्ञ पहले ही इस बारे में अपनी राय दे चुके हैं। महानगर गैस के डायरेक्टर राजीव माथुर ने २०१७ में ही कहा था की LNG को GST में शामिल कर लेना चाहिए, इससे ग्राहकों को काफी फायदा होगा। हालांकि मोदी सरकार ने अब LNG को GST में शामिल करने की कोई बात नहीं की है।

AUTHOR : RISHAV RAI

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *